संदेश

लैंसडाउन लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

यात्रा वृताांत - लैंसडाउन : प्रकृति की गोद में बसा स्वप्निल सौंदर्य

चित्र
आपके सुकून भरे पलों की तलाश पूरी हो सकती है यहाँ यदि आप प्रकृति की गोद में कुछ सुकून भरे पलों की तलाश में हैं और वह भी हिमालय की किन्हीं एकांत-शांत वादियों में अपने शहर के पास, तो आपकी खोज लैंसडाउन में पूरा हो सकती है। दिल्ली और हरिद्वार से महज 5 घंटे का सफर आपको यहाँ पहुँचा देता है। रास्ता कोटद्वार शहर से होकर गुजरता है। हरिद्वार से कोटद्वार के बीच का लालढांग कस्बे एवं बीच में कार्बेट पार्क से होता हुआ रास्ता स्वयं में प्राकृतिक दृश्यों से भरा हुआ है। मार्च-अप्रैल माह में गैंहूं की पक रही फसल से लहलहाते खेत अपने भूरे, हरे रंग के पैटर्न के साथ एक अद्भुत नजारा पेश करते हैं। साथ में हरी-भरी सब्जियों से भरे खेत आंखों को शीतलता देते हैं। आम के वृक्षों के बौर, कुछ अन्य तराई के फलों के रंग-बिरंगे फूल वसंती आभा लिए रास्ते भर आपका स्वागत करते हैं। पृष्ठभूमि में गढ़वाल हिमालय के पहाड़, उनमें फूल रहे जंगल, फूट रहीं ताजा कौंपलें एक बहुत ही सुंदर नजारा पेश करते हैं। यही नजारा कोटद्वार के बाद लैंसडाउन तक लगभग 40 किमी की मोड़दार चढाई के साथ एकदम साथ नजर आता है। इसमें पहाड़ की