संदेश

बिडगोश लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

मेरी पौलेंड यात्रा – 8, अंतिम दिनों की कुछ दिलचस्प यादें

चित्र
अकादमिक एक्सचेंज, भ्रमण एवं शाकाहारी जायका अगले दो दिन सक्रिय अकादमिक एक्सचेंज के रहे। आज पत्रकारिता विभाग के अध्यक्ष एवं प्रो. डॉ. सजना से मुलाकात होती है। यहाँ के बच्चों में थोडा हिचक दिखी, लेकिन थोडी ही देर में भाषा की दिवाल ढह जाती है और खुलकर संवाद होता है। पत्रकारिता शिक्षा की स्थिति यहाँ भी बहुत कुछ भारत जैसी ही लगी। पत्रकारिता शिक्षण का मीडिया उद्योग के लिए स्किल्ड मैनपावर तैयार करना पहला ध्येय दिखा, इसका समाज को प्रभावित करने वाले तथा शोधपरक पक्ष पर ध्यान कम लगा। समय अभाव के कारण प्रो. सायना के साथ अधिक चर्चा तो नहीं हो पायी, लेकिन कुछ यादगार क्लिप्स के साथ हम बापिस आ जाते हैं। पॉजिटिव जर्नलिज्म में इनकी खास रुचि दिखी। लगा कि हर समाज एवं देश में मीडिया की अधिकाँशतः नकारात्मक भूमिका के कारण एक विकल्प के रुप में हर जगह सकारात्मक पत्रकारिता की आवश्यकता अनुभव की जा रही है। शाम को होटल में मनोविज्ञान के प्रो. मैकेन्जी के साथ डिन्नर पर मुलाकात होती है। यहाँ पर सूप , पनीर की सब्जी और सामने-सामने कार्बन गैस से तैयार हो रही आईस-क्रीम का लुत्फ लिया। हमारी शाकाहारी पृ