संदेश

अगस्त 3, 2017 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

यात्रा वृतांत - बिजली महादेव जीप सफारी वाया नग्गर,जाणा-2(समाप्न किश्त)

चित्र
 जाणा फाल से बिजली महादेव आगे का लिंक मार्ग –  जाणा फाल से आगे 3-4 किमी के बीहड़ वनमार्ग से होते हुए रास्ता कोटधार गाँव पहुँचता है। यहाँ से एक लिंक रोड़ पक्के मार्ग से जुड़कर नीचे काईस गाँव की ओर बढ़ता है। 8-10 किमी का यह मार्ग फुटासोर, सोईल, राउगीनाला जैसे गाँवों से होते हुए लेफ्टबैंक मुख्यमार्ग में काईस स्थान पर पहुँचता है। इस रास्ते पर जीप सफारी का अपना ही आनन्द है। रास्ते में ऐसे व्यू प्वाइंट आते हैं जहाँ से नीचे कुल्लू घाटी तो ऊपर कटराईं व मनाली की ओर का विहंगम दृश्य देखते ही बनता है। घाटी में उतरती हुई सड़क के साथ सर-सर बहती हवा के तेज झोंकों को रास्ते भर अनुभव किया जा सकता है। कभी बिना सड़क के यह अविकसित क्षेत्र आज पक्की सड़क व फल-सब्जी उत्पादन के साथ विकास की अंगड़ाइयाँ ले रहा है, जिसे यहाँ बन रहे नए घर-मकानों व लोगों के पहनावे से लेकर जीवनशैली देखकर सहज ही आँका जा सकता है। बिजली महादेव की ओर – कोटाधार गाँव से सीधा रास्ता बिजली महादेव की ओर आगे बढ़ता है। आगे का रास्ता कच्ची सड़क से होकर गुजरता है, जिसमें जगह-जगह गहरी खाइयां व कुछ स