संदेश

अक्तूबर 12, 2020 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

मनाली से सोलाँग वैली एवं दर्शनीय स्थल

चित्र
  मनाली के आस-पास दर्शनीय स्थल मनाली से सोलांग वैली की ओर... मनाली एक हिल स्टेशन के कारण चर्चित होने की बजह से सीजन में बाकि हिल स्टेशन की तरह यहाँ भी भीड़ रहती है। यहाँ की हवा में हिमालयन टच तो साल के अधिकाँश समय रहता है, लेकिन शाँति-सुकून के पल तो मनाली शहर से बाहर निकल कर ही मय्यसर होते हैं। इसके आसपास के ऐसे स्थलों की चर्चा यहाँ की जा रही है, जो पर्यटन, एडवेंचर , प्रकृति का सान्निध्य एवं तीर्थाटन हर तरह की आवश्यकता को पूरा करते हैं। बस स्टैंड के सामने और थोड़ा उपर तिराहे पर दोनों स्थानों पर वन विहार मिलेगा, जो वन विभाग द्वारा संरक्षित है। शायद मानाली शहर का जो थोड़ा बहुत प्राकृतिक सौदर्य बचा है, वह इन्हीं दो वन विहारों के कारण है।  मनाली, व्यास नदी एवं वनविहार की पृष्ठभूमि में नीचे बाले वन बिहार में कुछ शुल्क के साथ प्रवेश होता है, इसमें देवदार के घने जंगल के बीच वॉल्क किया जा सकता है। अंदर मैपल और जंगली चेस्टनेट के पेड़ भी मिलेंगे, जो सीजन में फलों से लदे रहते हैं। इसकी गिरि बहुत स्वादिष्ट होती है, हालाँकि कांटो भरे इसके क्बच को तोड़ना पड़ता है। इसी बन विहार में नीचे ढलान से