मंगलवार, 10 मई 2022

स्व-नेतृत्व (Self-Leadership)

 

Self-Leadership : स्व नेतृत्व

 

1.      Will to be the Master of your own destinyअपने हिसाब से खुद को गढ़ने की जज्बा, मादा।

 

2.      Will to explore your highest potential –जीवन की चरम संभावनाओं को विकसित, प्रकट करने का जज्बा, भाव, मादा।

 

3.      Clarity of Goal, Life as well carrier – Inner driven, अंतःप्रेरित, न कि वाह्य प्रेरित, मौलिक, तभी प्राथमिकताएं तय, स्पष्ट।

 

4.      Time for yourself, आत्मबोध, तत्वबोध, आत्म समीक्षा, स्वाध्याय

 

 

5.      अपने समग्र विकास का प्रयास, शारीरिक, मानसिक-बौद्धिक, भावनात्म-सामाजिक, आध्यात्मिक। तकनीकी, आर्थिक।

 

6.      नित्य फिजिक्ल फिटनेस प्रोग्राम –

 

7.      नित्य मानसिक बौद्दिक विकास, विषय पर कमाँड, पकड़, विशेषज्ञ –Creative expression to your talent, inner potential - article, poem, song, dance, CREATION with your signature..

 

8.      Emotional development - भावनात्मक विकास, स्थिरता-दृढ़ता एवं – Behavioral adjustment & Skill (Winning behavior)– एक संवेदनशील इंसान, श्रोता। सबकी सुनकर साथ ले चलने की क्षमता। स्वार्थ-अहं को टीम के हित में एडजेस्ट करने की क्षमता।

 

9.      Strengthen the weakest chain of the Link (ठोक पीट कर दुरुस्त, जो भी व्यक्तित्व के कमजोर क्षेत्र)

 

10.  Follow your inner voice – अपने अंदर, ह्दय मंदिर में बैठे भगवान, सुद्गुरु, परमात्मा की वाणी।

 

11.  सार – सेल्फ कमाँड, सब्जेक्ट कमाँड, कर्तव्य पालन, स्वधर्म एवं अपना योगदान (सेवा)।।

आदर्श नेतृत्व के गुण (Qualities of an Ideal Leader)

 Qualities of an Ideal Leader

1.      Subject knowledge, professional competence, Subject command…

अपने विषय का जानकार...

2.      Visionary… Insight, foresight…VISION-2020 (APJ Kalam)

परमपूज्य गुरुदेव – युग निर्माण योजना, व्यक्ति-परिवार-समाज,

दूरदर्शी...टीम को कहाँ ले जाना है, समाज व राष्ट्र को किस मुकाम तक पहुँचाना है, ऐसी समझ स्पष्ट।

3.      Passion, commitment, enthusiasm, आशा, उत्साह, उमंग, विश्वास से लबरेज।

Ability to inspire others…Contagious संक्रामक जज्बा।

4.      Courage to take decision - timely & bold decision,

(नैतिक साहस) Moral courage, सही व गल्त कहने का साहस।

1971 युद्ध बनाम् 1962 का युद्ध। जनरल सैम मैनेक्शा।

Clarity of vision, Conviction, stands by Truth, accountable....

5.      Honesty& integrity  ईमानदारी - विश्वसनीयता

ईमानदार - हजार मनकों में अलग चमकने वाला हीरा

ईमानदारी, समझदारी, जिम्मेदारी बहादुरी।

विश्वसनीयता - प्रामाणिकता।

6.      Fairness, impartiality..

न्यायप्रियता, निष्पक्षता।

भेदभाव से टीम सदस्यों में असंतोष।

7.      Empathy, sensitivity, Good listener,

एक अच्छा श्रोता, संवेदनशील इंसान।

Good understanding of Human nature...सब पर एक नियम की लाठी नहीं, मानव प्रकृति की जटिलता।- टीम सदस्यों की विविधता।

8.      Delegate & empower team... You alone cannot do everything..

शक्ति वितरण, कार्य विभाजन।

9.      Communication skill.

संवाद कौशल, संचार कौशल , मुखरता

आध्यात्मिक - रामकृष्ण परमहंस-रमण, मुखरता से अधिक चरित्र, आध्यात्मिक अनुभूति।

10.  Open minded, flexible,

खुलापन, लचीलापन...

Positive, patience,...else, तानाशाह, कट्टर,

सबकी सुने लेकिन अपने विवेक से निर्णय

11.  Creative & innovative,

हर बक्त बदलती परिस्थितियों के अनुरुप समाधान।।

Ability to traverse unexplored path, not beaten path

Solution problems...Ability to manage complexity..

12.  Self-sacrificing spirit, सिरदार-सरदार।

Leading from the front,

13.  physical courage (रफ-टफ, साहस, भय पर काबू),

Guts to overcome or stand by FEAR,

14.  Self-discipline, आत्मानुशासन, Self responsibility

Man of CHARACTER, चरित्र निष्ठा,

15.  Sense of humor,

Serious moments Light mood

16.  Intuition – Guts feeling, अंतर्प्रज्ञा, दैवीय आस्था।।

सारा संसार विरोध में, तो भी अकेला साहस। मानवीय, नैतिक नहीं परामानवीय साहस।

आध्यात्मिक तत्व, दैवीय तत्व।

17.  कठोर श्रम,

18.  धैर्य(असीम)

19.  समय की पावन्दी,

20.  जमीं से जुड़ा। Down to Earth,

21.  Adventurous…साहसिक..

22.  अपनी टीम सदस्यों पर विश्वास, Belief on Employee

23.  Same vision, employee and the employer

24.  Always Ready to accept and learn from the failure

25.  Accountability, ज्वावदेही

शनिवार, 30 अप्रैल 2022

टीम बिल्डिंग और नेतृत्व (Team Building & Leadership)

 Importance of Team Building & Leadership

Types of Leadership

If we want to go fast, move alone, if we want to go far move together

यहीं से Team Building की बात शुरु होती है।

अगर कोई पहाड चढ़ना हो, अकेले भी काफी, लेकिन यदि माउँट एवरेस्ट, कंचनजंगा, नंदा देवी या दूसरा कोई बड़ी शिखर चढ़ना हो, तो टीम बनानी पड़ेगी, अकेले चढ़ना संभव नहीं। अगर कुछ लोगों को पढ़ाना हो तो अकेले काफी, लेकिन यदि पूरे गाँव को तो स्कूल की व्यवस्था, टीचरों की एक टीम। यदि पूरे जिले को पढ़ाना हो तो, कॉलेज, लेक्चररों की टीम, यदि पूरा देश या विश्व को शिक्षित तो यूनिवर्सिटी, प्रोफेसरों की टीम। साथ में तमाम नॉन अकादमिक स्टाफ की टीम। अपना इंस्टीच्यूट, अपना सेंटर।

टीम का अर्थ है like minded persons, एक लक्ष्य के लिए समर्पित committed सदस्यों का समूह, इनके साथ ही लीड़रशिप की बात शुरु होती है।

Leadership का मतलब नेताजी नहीं, जो आज काफी बदनाम शब्द हो चला है, जो किसी भी तरह जोड़-तोड़कर, जनता को बेवकूफ बनाकर बोट एंठने, सत्ता में आने के लिए आतुर।

Leadership का यहाँ अर्थ Quality, एक गुण, एक विशेषता है, एक influence, एक प्रभाव, एक motivation, inspiration, एक guiding force, जो team को लीड कर अंजाम तक पहुँचाए।

Leadership

If your action inspires others to Dream more, Learn more, Do more and Become more, you are a Leader. – John Quining Adam

So leadership is an influence, an impact, a motivation, an inspiration.

नेतृत्व के संदर्भ में दो मत

·         Trait theory, जो कहती है कि  

o   नेतृत्व एक वृति, जन्मजात, जिसे सीख नहीं सकते।, जैसे स्वामी विवेकानन्द, सुभाषचंद्र बोस। LaxmiBai,

·         Behavioral theory, जो कहती है कि  

o   नेतृत्व, एक व्यवहार की शैली है, जिसको सीखा जा सकता है।, जैसे – Lal Bahadur Shastry, IndiraGandhi (वाजपेयी जी के शब्दों में गुंगी गुड़िया से दुर्गा,1971 युद्ध)

Leadership कई तरह की हो सकती है।

Types of Leadership

1.      Dictatorship – Authoritarian – Autocratic तानाशाही, अधिनायकवादी,

Do what I tell you,  तानाशाही, यहाँ नेता माने - बॉस, जनता की बातों का कोई मोल नहीं, जो नेताजी ने सोचा, कहा वही आदेश।

दूसरे विश्वयुद्ध के दौरान, हिटलर, मुसोलिनी, स्टालिन आदि। आज उत्तरी कोरिया के किंम जोंग, मिलिट्री शासक।

आलोचना, प्रतिपक्ष का कोई अस्तित्व नहीं, विरोधी स्वरों को कुचल दिया जाएगा।

उपयोगी, 1 जब समय कम निर्णय का ,, 2, जब जनता अनपढ़, अनगढ़, कौशलहीन, तब सफल

यदि जनता पढ़ी लिखी, समझदार तो न चले तानाशाही। इसके अपने खतरे भी।

2.      Democratic – Participatory – लोकताँत्रिक – Your opinion are listened. to

जनता द्वारा चयनित नेता, जनता की राय व निर्णय को महत्व, प्रतिपक्ष का महत्व, जितना प्रतिपक्ष मजबूत लोकतंत्र भी मजबूत।

लेकिन यदि जनता अनपढ़, तो फिर गढ़वढ़ी शुरु। चुनाव गलत हो सकता है, जिसके कारण आज संसद में कितने अपराधी, बाहुबली नेता पहुँच चुके हैं।

यदि जनता समझदार तो सबसे वेहतरीन नेतत्व।

3.      Lassez-faire – Hand off, Individualistic,

Trust is the stepping stone of success...Minimum intervention of leadership…

टीम के हाथों नेतृत्व, जहाँ टीम स्किल्ड, समझदार, जानकार।

जैसे विश्वविद्यालय के विभाग। विभागाध्यक्ष। प्रोफेसर, टीचर व अन्य।

Warren Buffet…

4.      Transactional leadership – Profit/Motive driven, लाभ प्रेरित(आज के बिजनेस में प्रचलित)

Clear Goal, award, reward, punishment

Team as worker,

गुणा-भाग से चालित नेतृत्व, नफे-नुक्सान का रिश्ता। यदि लाभ तो पुरस्कार, यदि हानि तो दण्ड।

5.      Transformational –

Beyond profit-loss, Heart_Soul driven..

नेता यहाँ दिल पर राज करे,..

Team feels empowered, transformed….

यहाँ नेतृत्व नियमों से न चले, दिल से राज करे। प्रेरक नेतृत्व। जनता के मूल्य, विश्वास को बदल डाले।.. Visionary..दूरदर्शी, समग्र दृष्टि रखे..समझदार..

जैसे–गुरु गोविंद सिंह, सवा लख से एक लड़ाऊँ, तो गुरु गोविंद सिंह कहाऊँ।

परमपूज्य गुरुदेव, सुभाष चन्द्र बोस, स्वामी विवेकानन्द।....

6.      Charismatic – जादुई –

व्यक्तित्व का असर। कम्यूनिकेशन स्किल भी। Personal AURA..

जैसेरजनीकांत, जया ललिता आदि। Gandhi, JP Narayan..

7.      लोकप्रिय, Populist – अपनी पर्फोर्मेंस के आधार पर, लेकिन जनता के मूड़ को बदलते देर नहीं लगती, कब पलट जाए। सतत अपेक्षाओं पर खरा उतरना जरुरी, तभी।

 

8.      बिजनरी, दूरदर्शी,

Embrace my vision,

अबदुल कलाम आजाद, बिजन 2020, अटल विहारी वाजपेयी...परमाणु परीक्षण।

यशवंत सिंह परमार, गोविंद बल्लभ पंत......

9.      Service leadership –

सेवा,

जैसे गांधी (राजनीति भी सेवा, पत्रकारिता भी सेवा), बिनोवा, रामकृष्ण परमहंस(आध्यात्मिक नेतृत्व)। भक्ति भाव से, सेवा भाव से, निष्काम भाव से।

सबसे बड़ा उदाहरण – घर में माँ। सेवा करते हुए भी दिलों पर शासन।

 

10.  Burocratic –  Follow the procedure

प्रशासनिक. पद की शक्ति, बाकि बंधे बंधाए नियमों से चले। नेतृत्व का कार्य इनको लागू कर।

 

11.  Situational –

जैसे पक्षी का झुंड, कोई भी लीड़ कर सकता है।

उदाहरण – सोशल इंटर्नशिप – योग आसन, मनो-परामर्श, पर्यटन टूर गाईड, पर्यावरण समाधान, भाषा, संस्कृति पुरातत्व, रिपोर्टिंग-साक्षात्कार, शिक्षा, वेब डिजायनिंग, एनिमेशन आदि।

12.  Accidental Leadership वाई चांस, आक्समिक – परिस्थितिजन्य नेतृत्व

उदाहरणदेवगौड़ा, इंद्रजीत गुजराल, मनमोहन सिंह आदि।